LATEST NEWS

किसान संगठन 22 जुलाई से करेंगे संसद के पास प्रोस्टेस्ट, Sikhs for Justice के भड़काऊ वीडियो को लेकर खुफिया एजेंसियां अलर्ट

Spread the love


नई दिल्ली: किसान संगठनों (Farmers Union) के 22 जुलाई से मानसून सत्र (Monsoon Session) तक संसद के पास प्रोटेस्ट करने का ऐलान किया है. किसानों के इस मार्च को देखते हुए दिल्ली में सभी खुफिया एजेंसियां (Intelligence Agencies) अलर्ट पर हैं.

प्रोटेस्ट को लेकर जारी किए गए कई अलर्ट

किसान संगठनों के प्रदर्शन (Farmers Protest) को देखते हुए कई अलर्ट जारी कि गए हैं. Zee News के पास अलर्ट की कॉपी मौजूद है. पहले अलर्ट में बताया गया है कि संयुक किसान मोर्चा (SKM) नए कृषि कानून (New Agriculture Laws) के विरोध में 22 जुलाई से मानसून सत्र तक संसद के पास बड़े पैमाने पर प्रोटेस्ट कर सकता है. इससे कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है और आम पब्लिक को परेशानी हो सकती है.

दिल्ली पुलिस समेत जीआरपी भी अलर्ट

किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस (Delhi Police) हाई अलर्ट पर है. इसके साथ ही अलर्ट में कहा गया है कि समर्थक बड़ी संख्या में ट्रेन के जरिए दिल्ली पहुंच सकते हैं. ट्रेन में किसान समर्थकों की भीड़ बढ़ने से आम यात्रियों को भी दिक्कत हो सकती है, इसलिए दिल्ली पुलिस और जीआरपी (GRP) समेत तमाम एजेंसी अलर्ट पर रहें.

सिख फॉर जस्टिस ने किसानों को भड़काया

दूसरे अलर्ट में कहां गया है कि खालिस्तानी संगठन सिख फॉर जस्टिस (Sikhs for Justice) के जनरल काउंसिल गुरपतवंत सिंह पन्नू (Gurpatwant Singh Pannu) ने सोशल मीडिया पर कई वीडियो अपलोड कर 22 जुलाई को संसद पर बवाल करने के लिए भड़काया है.

पन्नू ने पार्लियामेंट पर कब्जा करने के लिए कहा

पन्नू ने अपने मैसेज में पंजाब के नौजवानों को दिल्ली में बवाल करने और पार्लियामेंट पर कब्जा करने के लिए कहा है. इसके साथ ही कहा है कि किसानों का एक ही समाधान खालिस्तान है. पन्नू के इस मैसेज के बाद दिल्ली पुलिस (Delhi Police) अलर्ट पर है और साथ ही सभी को सुरक्षा कड़े करने के आदेश दिए गए हैं.

लाइव टीवी





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *