SPORTS

धोनी की वजह से खत्म हुआ था क्रिकेट करियर, इस पूर्व क्रिकेटर का दावा

Spread the love


नई दिल्ली: भारत में जहां क्रिकेटरों को टॉप लेवल तक पहुंचने में जीवन लगा देना होता है, वहीं धोनी की प्रतिभा कुछ अलग ही थी. भारतीय टीम तक का उनका सफर महज 5-6 साल में पूरा हो गया. 23 दिसंबर 2004 को धोनी ने बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच के जरिए अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज किया था. धोनी के इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखते ही कई विकेटकीपरों के करियर खत्म हो गए और कप्तानी मिलने के बाद तो किसी भी विकेटकीपर के पास धोनी की जगह लेना का कोई मौका ही नहीं बचा था.

धोनी के कारण खत्म हुआ इस क्रिकेटर का करियर 

टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) ने खुलासा किया है कि धोनी (MS Dhoni) के आने की वजह से उन्हें टीम इंडिया में ज्यादा मौके नहीं मिले और जल्द ही धोनी ने उनकी जगह ले ली. पार्थिव पटेल ने अपना टेस्ट डेब्यू सिर्फ 17 साल की उम्र में किया था. पार्थिव पटेल ने 2002 में इंग्लैंड के खिलाफ अपना पहला टेस्ट खेला था.

टीम इंडिया से किया गया ड्रॉप 

धोनी के आने के बाद पार्थिव पटेल को काफी कम मौके मिलने लगे. पार्थिव पटेल टीम इंडिया के लिए सिर्फ 25 टेस्ट, 38 वनडे और दो टी20 ही खेल पाए थे. कर्टली एंड करिश्मा शो पर बातचीत के दौरान पार्थिव पटेल ने कहा कि उन्हें टीम से इसलिए ड्रॉप किया गया था, क्योंकि वो खुद को मिले मौके का फायदा नहीं उठा पाए थे.

धोनी के आते ही सब कुछ बदल गया 

पार्थिव पटेल ने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मुझे नहीं लगता है कि मैं अनलकी था. मुझे धोनी से पहले टीम इंडिया के लिए खेलने का मौका मिला था. मुझे टीम से इसलिए ड्रॉप किया गया था, क्योंकि इंटरनेशनल क्रिकेट के हिसाब से मेरा परफॉर्मेंस अच्छा नहीं था. इसके बाद धोनी टीम में आ गए.’ पार्थिव पटेल ने कहा, ‘मैं सिर्फ इसलिए खुद को अनलकी नहीं कह सकता हूं कि मुझे ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिला. ड्रॉप होने से पहले मैं 19 टेस्ट खेल चुका था. मैं ये भी नहीं कह सकता कि मुझे पर्याप्त मौके नहीं मिले. 19 टेस्ट मैच काफी होते हैं.’ पार्थिव ने अपने वनडे करियर में 23.74 के एवरेज से 4 अर्धशतकों के साथ 736 रन बनाए.





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *