POLITICS

फ्री कोरोना वैक्सीन के ऐलान के बाद कांग्रेस ने मोदी पर कसा तंज, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जताया आभार

Spread the love


कांग्रेस ने मोदी पर हमला करते हुए कहा कि सरकार ने अदालतों के दबाव में यह फैसला लिया है। वहीं कैप्टन ने ट्वीट कर इस ऐलान के लिए धन्यवाद दिया।

नई दिल्ली। राष्ट्र के नाम संबोधन में सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने 18 साल के ऊपर की उम्र के सभी लोगों को फ्री कोरोना वैक्सीन लगाने का ऐलान किया। इसके तुरंत बाद कांग्रेस ने पीएम मोदी द्वारा देरी से लिए इस निर्णय को लेकर आलोचना की। मगर पंजाब के कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पीएम का आभार व्यक्त किया है। अमरिंदर ने पार्टी के सुर से अलग होकर सियासत का रुख पलट दिया है।

Read More : Corona की मारः मुंबई में बंद हुआ Hyatt Regency होटल, कर्मचारियों को वेतन देने के लिए नहीं बचा फंड

आंशिक रूप से ही कांग्रेस की बात मानी

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला का कहना है कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी सहित कांग्रेस के दूसरे नेताओं ने सरकार को पत्र लिखकर कहा था कि सभी नागरिकों को फ्री में वैक्‍सीन दी जाए। मगर सरकार ने हमारी मांग नहीं सुनी। सुरजेवाला ने कहा कि जब सुप्रीम कोर्ट और देश की कई अदालतों में केंद्र सरकार को कटघरे में लिया तो सरकार ने आंशिक रूप से ही कांग्रेस की बात मानी है।

कैप्‍टन ने आभार व्यक्त किया

एक तरफ कांग्रेस केंद्र सरकार पर हमलावर दिखी, वहीं पंजाब के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने एकदम दूसरा ही रुख अपना लिया। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा कि वह पीएम नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त करेंगे। उन्‍होंने हमारी मांग मानी कि केंद्र सभी आयुवर्गों के लिए वैक्‍सीन की व्‍यवस्‍था और वितरण करे। वे इस मुद्दे पर पीएम और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन जी को दो बार पत्र लिख चुके थे। अब आने वाले दो हफ्तों के अंदर केंद्र और राज्‍य सरकार नए दिशा निर्देशों पर काम करेगी।

इस रुख के हैं गहरे सियासी मायने

अमरिंदर सिंह के इस अलग रुख को लेकर पार्टी के अंदर हलचल तेज हो गई है। पंजाब कांग्रेस में कैप्टन अमरिंदर सिंह को लेकर एक खेमा लगातार विरोध कर रहा है। बीते दिनों कैप्टन को कांग्रेस हाई कमान ने तीन सदस्यीय समिति के सामने पेश होने को कहा था। कैप्‍टन 4 जून को समिति के सामने पेश हुए। हालांकि समिति में क्या हुआ इस पर वे कुछ नहीं बोले।

Read More: डेटा सुरक्षा कानून को लेकर समिति की अंतिम रिपोर्ट का इंतजार, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दी सफाई

अगले साल होने हैं पंजाब में चुनाव

अगले साल यूपी समेत उत्‍तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इनमें से केवल पंजाब में ही कांग्रेस को ज्यादा उम्मीद दिखाई दे रही है। ऐसे में मजबूत जनाधार वाले अमरिंदर सिंह की उपेक्षा नहीं हो सकती है। उनके विरोधी अमरिंदर सिंह को चुनाव में नेतृत्व करने से रोक रहे हैं। मगर धड़ा कैप्टन के साथ मजबूती से खड़ा है। उसका मानना है कि चुनाव में जीत कैप्टन की अगुवाई में ही मिल सकती है। ऐसे में कैप्टन का पीएम मोदी को आभार जताना कांग्रेस हाईकमान के लिए बड़ा झटका है। कैप्टन ने साबित कर दिया है कि वह पार्टी लाइन के खिलाफ भी जा सकते हैं।





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *