LATEST NEWS

मंत्री मुकेश सहनी ने उठाया विधायक निधि मामला, कहा-शेष राशि मिलनी चाहिये वापस

Spread the love


Patna: हाल में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश वासियों को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार के द्वारा राज्यों को मुफ्त में टीका देने का एलान किया था. जिसके बाद नीतीश सरकार के मंत्री एवं VIP पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी ने प्रतिनिधियों की ऐच्छिक कोष की वापसी की सरकार से मांग कर डाली है. 

मुकेश सहनी ने मुख्यमंत्री को इसके लिए पत्र लिखा है. उन्होंने इस पत्र को सोशल मीडिया पर भी डाला है, जिसमें कोरोना महामारी के टीकाकरण के लिए जनप्रतिनिधियों की ऐच्छिक कोष की राशि को वापस लौटने की मांग की गई है. 

मंत्री मुकेश सहनी ने पत्र में लिखा कि अब केंद्र सरकार द्वारा बिहार सरकार को निःशुल्क टीका उपलब्ध कराने की घोषणा हो चुकी है. ऐसी स्थिति में मुख्यमंत्री ऐच्छिक कोष की राशि को जन प्रतिनिधियों के पूर्व प्रदत शक्ति बरकरार कर देते तो विकास कार्यों को गति मिलेगी, जो 2020 से पूरी तरह ठप पड़ी है. ऐसे में अगर जनप्रतिनिधियों को ऐच्छिक राशि मिल जाती तो अपने क्षेत्र में विकास कार्य चिकित्सीय सुविधा बेहतर और सुलभ करा सकेंगे. 

ये भी पढ़ें- नालंदा में शर्मसार हुई मानवता, शौचालय में जिंदगी गुजार रहीं दादी-पोती, कोई मदद करने वाला नहीं

उन्होंने अपने पत्र में आगे लिखा कि 2020 में जब पूरे विश्व मे कोरोना महामारी फैलने लगी थी तो उस समय बिहार सरकार ने यह निर्णय लिया था कि मुख्यमंत्री क्षेत्र विकास योजना के नाम पर MLA औऱ MLC को जो फंड मिलता है, उसमे कटौती की गई थी. इसमें MLA  और MLC को 3 करोड़ रुपये मिलते थे. जिसमे 2 करोड़ रुपये सरकार अपने पास जमा कर रही थी.  

उन्होंने आगे लिखा कि बिहार में अभी 242 MLA और 70 MLC है. ऐसे में सरकार के कोरोना उन्मूलन कोष में 624 करोड़ रूपये जमा हो गए हैं. मुकेश सहनी का कहना है कि 624 करोड़ में से 400 करोड़ बचा हुआ है. ऐसे में सरकार को उस पैसे को वापस कर देना चाहिये.

 





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *