LATEST NEWS

10वीं पास ने उड़ाए सबके होश, लड़कों के न्यूड वीडियो बनाकर करता था ब्लैकमेल

Spread the love


सिंगरौली: सिंगरौली जिले में एक नाबालिग शातिर हैकर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि 15 साल का यह हैकर प्रतिबंधित साइट के जरिए न्यूड वीडियो बनाकर लोगों को ब्लैकमेल करता था. हैरानी इस बात की है कि आरोपी महज 10वीं पास है. लेकिन उसके अपराध करने का तरीका किसी बड़े शहर के शातिर अपराधी जैसा है. युवक कई बड़े अधिकारियों को भी अपना शिकार बना चुका है.

तीसरी लहर की आशंकाः MP में ऑक्सीजन का हो रहा दुरुपयोग, जिला अस्पताल में प्लांट भी नहीं

दरअसल साइबर ब्लैकमेलर इन दिनों लोगों से फ्रॉड करने के नए-नए तरीके अपना रहे हैं. ब्लैकमेलर इन दिनों सेक्सटार्शन के जरिए लोगों से ठगी कर रहे हैं. सेक्सटार्शन के मामले अभी तक इंदौर, भोपाल, दिल्ली जैसे महानगरों में आते थे लेकिन अब सिंगरौली जिले में भी आने लगे हैं.

प्रियंका बन अश्लील वीडियो बनाती
बताया जा रहा है कि मोरवा का ही एक दसवीं कक्षा में पढ़ने वाला युवक कर रहा था. पुलिस ने बताया कि मोरवा निवासी एक युवक ने प्रियंका नाम की एक लड़की की शिकायत करते हुए कहा कि ये व्हाट्सएप कॉलिंग करती है और लड़कों को अपने जाल में फंसाकर अश्लील वीडियो बनाकर पैसों की मांग करती हैं. पैसे ना देने पर वीडियो को नेट में डालने की धमकी देती है. 

इस तरह अपने काम को अंजाम देता था
युवक की शिकायत पर पुलिस मामले की जांच में जुटी तब जो मामला सामने निकलकर आया तो लोगों की उनके पैरों तले की जैसे जमीन सी खिसक गई है. एडिशनल एसपी अनिल सोनकर ने बताया कि आरोपी ने प्रतिबंधित ऐप को अपने मोबाइल पर लोड कर रखा था. उसी ऐप के माध्यम से छात्र व्हाट्सएप पर लड़कियों के नाम पर फर्जी आईडी बना रखा है. लोगों को व्हाट्सएप पर कॉलिंग कर लड़की बनकर पहले चिकनी चुपड़ी बातें करता था. उसके बाद वीडियो कॉलिंग में न्यूड लड़कियों का वीडियो बनाकर उनको ही भेजकर ब्लैकमेल करता था. 

खुद को यूएई का निवासी बताया
यह आरोपी इतना शातिर था कि बातों ही बातों में सामने वाले के भी कपड़े उतरवा देता था. जिसे रिकॉर्ड कर बाद में उसी को फोन कर ब्लैकमेल कर पैसों की मांग करता था. पैसे ना देने पर न्यूड वीडियो इंटरनेट पर वायरल किए जाने की धमकी देता था. पुलिस ने बताया कि यह पूरा काम वह अपने घर मोरवा से ही करता था. छात्र इतना शातिर है कि वह ऐप के माध्यम से अपने आप को यूएई का निवासी बताता था. वह ऑनलाइन पैसे लेता था. ब्लैकमेल से प्राप्त पैसों से वह डार्कवेब के माध्यम से खतरनाक हैकिंग सॉफ्टवेयर खरीदा था. युवक ने क्रिप्टो करेंसी के माध्यम से भी सॉफ्टवेयर ऑनलाइन खरीदा था.

ट्रांसजेंडर राधा को मिला पहला पहचान प्रमाण पत्र, आंखों में आंसू लिए बोलीं-‘मैं डॉक्टर बनना चाहती थी’

लड़के को किया गिरफ्तार
पुलिस ने बताया कि युवक 2 दर्जन से अधिक फर्जी व्हाट्सएप आईडी बना चुका है. सभी आईडी लड़कियों के नाम पर है. जिनका उपयोग लोगों से ठगी करने में काम करता था. जिस व्यक्ति को अपना शिकार बनाता था उसकी आईडी और मोबाइल भी वह हैक कर लेता था और घर वालों के मोबाइल नंबर निकाल देता था. पुलिस ने बताया है कि इस पूरी वारदात को अंजाम अकेले ही देता था. पुलिस ने आरोपी युवक से लैपटॉप सहित कई प्रतिबंधित सॉफ्टवेयर को जब्त कर लिया है.

WATCH LIVE TV





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *