LIFESTYLE

April Fool’s Day: 1 अप्रैल क्यों होता है मूर्ख दिवस, ये है असल वजह!

Spread the love


1 अप्रैल के दिन को क्यों कहा जाता है फूल डे , जानिए ऐसा क्या हुआ था कि लोग इस दिन की शुरूआत ही अप्रैल फूल डे के रूप में मनाकर करते हैं।

नई दिल्ली। 1 अप्रैल आते ही लोग इस दिन को अप्रैल फूल डे के नाम से याद करने लग जाते है। और इस दिन लोग हंसी मजाक के साथ एक दूसरे को मूर्ख साबित करने की कोशिश भी करते है। कई देशों में तो 1 अप्रैल के दिन ऑफिसों की छुट्टी भी होती है। यह दिन हर देश में अलग अलग तरीके से मनाया जाता है। कुछ स्थानों पर इस दिन को लोग ‘ऑल फूल्स डे’ के नाम से जानते हैं। इस दिन की जाने वाली हंसी-मजाक पर लोग बुरा ना मानकर खुद इसको एंजाय करते हैं। लेकिन 1 अप्रैल के दिन ऐसा क्या हुआ था कि लोग इस दिन की शुरूआत ही अप्रैल फूल मनाकर करते हैं। आज हम आपको बताते हैं इसके बारे में ।

अलग-अलग देशों में मनाने के तरीके अलग

1 अप्रैल के दिन को अलग-अलग देशों में अलग-अलग तरीकों से अप्रैल फूल डे के रूप में मनाते है। जैसे ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, साउथ अफ्रीका और ब्रिटेन में फूल डे केवल दोपहर को ही मनाया जाता है। जबकि जापान, रूस, आयरलैंड, इटली और ब्राजील में पूरे दिन इसे फूल डे के रूप में मनाया जाता है।

अप्रैल फूल दिवस की शुरुआत के बारे में बैसे कोई खास जानकारी नही है लेकिन बताया जाता है कि फ्रेंच कैलेंडर में होने वाले बदलाव के चलते अप्रैल फूल डे मनाने की शुरुआत हुई।

32 मार्च को होनी थी सगाई

ऐसा भी कहा जाता है कि अप्रैल की पहली तारीख को फूल डे मनाना की कहानी साल 1381 से जुड़ी हुई है इसके पीछे का कारण यह था कि इंग्लैंड के राजा रिचर्ड द्वितीय और बोहेमिया की रानी एनी से सगाई करना चाहते थे और इसके लिए उन्होंने 32 मार्च 1381 का दिन चुना। लेकिन जब लोगों को यह एहसास हुआ कि 31मार्च के बाद तो दूसरे महिने की शुरूआत होती है। यह दिन तो कभी भी नही आता है। तभी से 31 मार्च के बाद का दिन 1 अप्रैल मूर्ख दिवस के रूप में मनाया जाने लगा।





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *