LATEST NEWS

Begusarai: जान मारने की नीयत से जीजा ने साले को नदी में फेंका, फिर इस तरह बची युवक की जान

Spread the love


Begusarai: बिहार के बेगूसराय में एक शख्स ने अपने साले को जान मारने की नीयत से गंडक नदी (Gandak River) में फेंक दिया. हालांकि, गनीमत रही की पीड़ित युवक को थोड़ा बहुत तैरने आता था और स्थानीय लोगों की मदद से उसे बाहर निकाला गया. फिलहाल पुलिस पीड़ित युवक को सकुशल बरामदगी के बाद उससे पूछताछ कर रही है. वहीं, आरोपी की गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही है.

बता दें कि बेगूसराय के नीमा चांदपुरा थाना क्षेत्र के परना घाट के पास एक शख्स ने अपने साले को मारने की नीयत से गंडक नदी में फेंक दिया. बताया जा रहा है कि दिल्ली के रहने वाले संतोष कुमार पिछले एक सप्ताह से नावकोठी निवासी अपने जीजा कुणाल कुमार के यहां रह रहे थे.

संतोष कुमार ने आरोप लगाया है कि पिछले रात उनके जीजा भोज खाने की बात कह कर उन्हें अपने साथ ले गए. इस दौरान दोनों जब नावकोठी थाना (Nava kothi thana) क्षेत्र के छतौना गंडक पुल पर पहुंचे तो नदी में ज्यादा पानी होने की बात कही. उन्होंने अपने साले से कहा कि देखिए पानी बढ़ने की वजह से नदी का नजारा कितना अच्छा लग रहा है.

तैर कर बाहर आया शख्स, किनारे खड़े लोगों ने बचाई जान
इस दौरान संतोष ने जीजा की बात सुनकर जैसे ही पुल से नीचे देखना आरंभ किया वैसे ही कुणाल कुमार ने अपने साले संतोष कुमार का पैर नीचे से उठा दिया और उसे पानी में धक्का दे दिया. रात होने की वजह से इस घटना को किसी ने ना तो देखा और ना ही किसी को भनक लगी. हालांकि, पीड़ित संतोष कुमार को थोड़ी बहुत तैराकी आती थी, इस वजह से वह अपना हाथ पैर चलाते रहा.

पीड़ित युवक ने पैर-हाथ चलाते चलाते कुछ समय में नीमा चांदपुरा थाना क्षेत्र के परना घाट के पास पहुंचा. वहां, पहुंचते ही उसने आसपास के लोगों को आवाज लगाई. नदी से एक युवक की आवाज सुनते ही ग्रामीणों ने नदी से संतोष कुमार को बाहर निकाला. बाहर निकालते ही संतोष को पास के प्राथमिक अस्पताल में भर्ती कराया और इस घटना की सूचना थाने को दी. 

सूचना देने के 15 घंटे बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची
हालांकि, स्थानीय लोगों का आरोप है कि घटना की सूचना देने के 15 घंटे बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची. काफी लापरवाही के बाद जब पुलिस पहुंची तो कुछ युवक उनका वीडियो बनाने लगे. इस दौरान पुलिस उल्टे ही वीडियो बना रहे युवकों और स्थानीय लोगों से मारपीट करने लगी. लेकिन, इसके बाद जब ग्रामीण आक्रोशित हुए तो पुलिस पीड़ित युवक संतोष को लेकर थाने चली गई. पुलिस पीड़ित युवक से पूछताछ कर मामले की जांच में जुट गई है.

पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है
इस मामले में कहा जा रहा है कि संपत्ति विवाद को लेकर घटना को अंजाम देने की कोशिश की गई. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है. पुलिस जांच के बाद ही इसका पता चल पाएगा कि आखिर मंशा क्या थीकम एफआईआर पर नाम आ जाता तो आलाकमान को ये बताने की जरुरत नहीं पड़ती की हमने काफी मेहनत की.

 





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *