LATEST NEWS

Canada में मुस्लिमों को निशाना बनाए जाने पर बोले Justin Trudeau – देश में नफरत और घृणा की कोई जगह नहीं

Spread the love


टोरंटो: कनाडा (Canada) के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) ने मुस्लिम परिवार (Muslim Family) पर हुए हमले की निंदा करते हुए समुदाय के लोगों को भरोसा दिलाया है कि सरकार उनके साथ है. ट्रूडो ने कहा कि कनाडा में नफरत की कोई जगह नहीं है और ऐसा करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा. बता दें कि रविवार को एक युवक ने अपने ट्रक से मुस्लिम परिवार के पांच लोगों को रौंद डाला था, जिनमें से चार की मौत हो गई है. जबकि नौ वर्षीय बच्चे को गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.   

Muslims को दिलाया विश्वास

प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में कहा कि कनाडा में नफरत और घृणा का कोई स्थान नहीं है. हमें इसे किसी भी कीमत पर रोकना होगा. उन्होंने कहा कि मैं लंदन, ओंटारियो सहित पूरे देश में रहने वाले मुस्लिमों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि सरकार उनके साथ है. प्रधानमंत्री ने अस्पताल में भर्ती बच्चे के जल्द ठीक होने की उम्मीद जताते हुए कहा कि सरकार पीड़ित परिवार को हर संभव मदद मुहैया कराएगी.

ये भी पढ़ें -Dominica के प्रधानमंत्री बोले- Mehul Choksi के अधिकारों का सम्मान, कोर्ट पर छोड़ा फैसला

जानबूझकर रौंद दिया था

ट्रूडो ने बताया कि उन्होंने घटना को लेकर लंदन के मेयर से बात की है और उन्हें इस्लामोफोबिया से निपटने के लिए मौजूद हर उपकरण का इस्तेमाल करने को भी कहा है. गौरतलब है कि रविवार को आरोपी नथानिएल वेल्टमैन (Nathaniel Veltman) ने जानबूझकर अपने पिकअप ट्रक (Pickup Truck) से मुस्लिम परिवार को रौंद दिया था. इस घटना में 74 वर्षीय महिला की मौके पर ही मौत हो गई थी. जबकि 46 वर्षीय पुरुष, 44 वर्षीय महिला और 15 साल की बच्ची ने अस्पताल ले जाने के दौरान दम तोड़ दिया. परिवार के नौ वर्षीय बच्चे को गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी स्थिति नाजुक बनी हुई है.

Hate-Crime की दूसरी बड़ी घटना

नथानिएल वेल्टमैन के खिलाफ फर्स्ट डिग्री मर्डर और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने इसे हेट-क्राइम करार देते हुए कहा है कि आरोपी मुस्लिमों को पसंद नहीं करता. संभवत: इसलिए उसने वारदात को अंजाम दिया होगा. इस वारदात को 2017 के बाद से मुस्लिमों के खिलाफ हुआ सबसे बड़ा हमला बताया जा रहा है. 2017 में क्यूबेक सिटी की एक मस्जिद के छह सदस्यों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. वहीं, लंदन के पुलिस प्रमुख स्टीफन विलियम्स ने भी इस मामले पर प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने कहा, ‘हमें लगता है कि यह जानबूझकर किया गया कृत्य है. हमारा मानना है कि मृतकों को उनके धर्म की वजह से निशाना बनाया है.

 





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *