HEALTH

food to increase memory: याददाश्त बढ़ाने के लिए खाएं ये 5 चीजें, दिमाग भी होगा तेज

Spread the love


नई दिल्ली: अगर आप चाहते हैं कि आपकी याददाश्त अच्छी हो और दिमाग भी तेज चले तो ये खबर आपके काम आ सकती है. इस खबर में हम आपके कुछ ऐसी चीजों के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जिनके सेवन से आप कमजोर याददाश्त (poor memory) से राहत पा सकते हैं. डाइट एक्सपर्ट्स रंजना सिंह की मानें तो कई बार डाइट (diet) सही नहीं होने से याददाश्त कमजोर होने लगती है.

डाइटिशियन डॉक्टर रंजना सिंह के अनुसार मस्तिष्क को बहुत अधिक एनर्जी की जरूरत होती है, क्योंकि यह शरीर की कैलोरी का उपयोग करता है. अपने मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए आपको भरपूर मात्रा में फल और सब्जियां खाने के साथ-साथ ओमेगा -3 फैटी एसिड जैसे सैल्मन से भरपूर फूड्स खाने पर ध्यान देना चाहिए. विशेष रूप से गहरे हरे पत्तेदार सब्जियां मस्तिष्क की सुरक्षा करती हैं. नट, बीज और फलियां, जैसे सेम और मसूर, भी बेहतरीन ब्रेन भोजन हैं. 

इन चीजों का सेवन करें

अखरोट
मस्तिष्क के लिए एक सुपर फ़ूड के रूप में माना जाने वाला अखरोट एक बेहतरीन पोषक तत्वों से भरपूर भोजन है जो आपके मस्तिष्क को कई तरह से लाभ पहुंचाता है. अखरोट अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (एक पौधे-आधारित ओमेगा -3 फैटी एसिड), पॉलीफेनोलिक यौगिकों से भरपूर होते हैं. ओमेगा-3 फैटी एसिड और पॉलीफेनोल्स दोनों को महत्वपूर्ण ब्रेन फूड माना जाता है क्योंकि वे ऑक्सीडेटिव तनाव और सूजन से लड़ते हैं.

अलसी और कद्दू के बीज
कद्दू और अलसी के बीज दिमाग की सेहत के लिए बेहतरीन होते हैं. इन बीजों में मौजूद जिंक, मैग्नीशियम, विटामिन बी से सोचने की क्षमता विकसित होती है, याददाश्त बढ़ सकती है.

सीड्स का सेवन
डाइटिशियन डॉक्टर रंजना सिंह की मानें तो सीड्स के सेवन से याददाश्त में सुधार, मस्तिष्क की कार्यक्षमता में सुधार होता है. इसके साथ ही सतर्कता और एकाग्रता शक्ति सुनिश्चित करने में मदद मिल सकती है. सीड्स विटामिन के, ए, सी, बी 6, ई, कैल्शियम, मैंगनीज, आयरन, जिंक, तांबा युक्त एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं, जो यह आपकी याददाश्त शक्ति को सुधारने का काम करते हैं.

काजू
बाद एक बेहतरीन मेमोरी बूस्टर है. पॉली-सैचुरेटेड और मोनो-सैचुरेटेड फैट्स इसे मस्तिष्क की कोशिकाओं के उत्पादन के लिए बहुत जरूरी बनाते हैं और इस तरह इसकी शक्ति बढ़ाते हैं.

बादाम
ये मस्तिष्क में एसिटाइलकोलाइन के स्तर को बढ़ाने में मददगार है. इसमें पाए जाने वाले विटामिन बी 6, ई, जिंक, प्रोटीन के कारण आपको बेहतर संज्ञानात्मक कार्य- मरम्मत की गई कोशिकाएं, हाई न्यूरोट्रांसमीटर रासायनिक उत्पादन मिलता है.

ये भी पढ़ें: healthy food for heart: हार्ट को स्वस्थ रखती हैं ये 5 चीजें, आज से ही करें डाइट में शामिल





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *