LATEST NEWS

Monsoon Session 2021: इसलिए बढ़ रही है Petrol-Diesel की कीमत? Excise Duty 88% बढ़ा, सरकारी खजाने में आए 3.35 लाख करोड़

Spread the love


नई दिल्ली: Petrol- Diesel Price: देश में लगातार पेट्रोल और डीजल की कीमत नए रिकॉर्ड को छू रही है.17 राज्यों में पेट्रोल का रेट 100 रुपए के पार पहुंच चुका है. आम जनता की जेब ढीली पड़ गई है. लेकिन क्या आप जानते हैं इस बढ़ोतरी की वजह क्या है? फ्यूल की बढ़ती कीमत सबसे बड़ा कारण है कि इस पर वसूले जाना वाला टैक्स बहुत ज्यादा है.
आप जानकर दंग रह जाएंगे कि वित्त वर्ष 2020-21 में पेट्रोल-डीजल पर केंद्र सरकार की तरफ से वसूले जाने वाले टैक्स में 88 % का उछाल आया है और इससे सरकारी खजाने में आए 3.35 लाख करोड़ रुपये आए हैं.

लोकसभा में दी गई जानकारी 

लोकसभा में आज पेट्रोलियम स्टेट मिनिस्टर रामेश्वर तेली की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 19.98 रुपए से बढ़कर 32.90 रुपए बढ़ा दिया गया. वहीं डीजल पर उत्पाद शुल्क 15.83 से बढ़कर 31.80 रुपए बढ़ गया. 2020 में कोरोना के आने के बाद ग्लोबल लॉकडाउन लग गया था जिसके कारण मांग में भारी गिरावट आई और कच्चे तेल का भाव कई सालों के न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया था. ऐसे में सरकार ने टैक्स बढ़ाकर पेट्रोल-डीजल की कीमतों में जबरदस्त बढ़ोतरी की.

ये भी पढ़ें- BharatPe दे रही है जबरदस्त ऑफर! Job ज्वाइन करते ही मिलेगी BMW की सुपर बाइक और दुबई में World Cup टूर

एक्साइज ड्यूटी कलेक्शन 3.35 लाख करोड़

इस बढ़ती महंगाई ने भले ही जनता की कमर तोड़ दी हो लेकिन सरकारी खजाने को जबरदस्त प्रॉफिट हुआ है. पूरे वित्त वर्ष (2020-21) में उत्पाद शुल्क का कलेक्शन 3.35 लाख करोड़ रहा जबकि वित्त वर्ष 2019-20 में एक्साइज ड्यूटी कलेक्शन 1.78 लाख करोड़ रुपए था. अगर एक साल के आधार पर देखें तो इसमें 88 फीसदी की तेजी आई है. 2018-19 में एक्साइज ड्यूटी कलेक्शन 2.13 लाख करोड़ रुपए रहा था.

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में बंपर वसूली 

वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी ने काह कि चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही यानी अप्रैल-जून के बीच सभी पेट्रोलियम प्रोडक्ट जिसमें पेट्रोल- डीजल के अलावा, ATF, नैचुरल गैस और क्रूड ऑयल आता है, उस पर अभी तक 1.01 लाख करोड़ रुपए एक्साइज ड्यूटी के रूप में वसूली जा चुकी है. वित्त वर्ष 2020-21 में टोटल एक्साइज ड्यूटी कलेक्शन 3.89 लाख करोड़ रुपए रहा था. इससे यह स्पष्ट हो गया है कि जनता भले की महंगाई की मार झेल रही है लेकिन सरकार का घर भर रहा है.

ये भी पढ़ें- Petrol पंप पर नहीं होंगे ठगी का शिकार, जान लें ये जरूरी नियम; गड़बड़ी करने वालों पर गिरेगी गाज

17 राज्यों में पेट्रोल 100 के पार

आपको बता दें कि वक्त देश के 17 राज्‍यों में पेट्रोल का भाव 100 रुपये प्रति लीटर या इससे ऊपर है. राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश, महाराष्‍ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, लद्दाख, जम्‍मू एवं कश्‍मीर, ओड़‍िशा, तमिलनाडु, बिहार, केरल, पंजाब, सिक्किम, पुड्डुचेरी , दिल्‍ली और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में जहां फ्यूल की की कीमत शतक लगा चुकी है वहां की जनता बेहाल है. भोपाल में सबसे पहले पेट्रोल का भाव 100 रुपये के पार पहुंचा था.

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV





Source link


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *